Menu

लोकपाल का लोगो जारी Lokpal logo released

Lokpal Logo and Moto

Lokpal released its logo and motto on Tuesday

मोटो “ईशोपनिषद्” के श्लोक से लिया गया है

नई दिल्ली : लोकपाल (Lokpal Logo)  को उसका लोगो और मोटो मिल गया है लोकपाल ने मंगलवार को अपना लोगो और आदर्श वाक्य जारी किया. संस्कृत के आदर्श ‘’वाक्य मा गृधः कस्यस्विद्धनम्‌’’ जिसका अनुवाद है की "किसी के धन के लिए लालची मत बनो"। ये कथन “ईशोपनिषद्” निम्न श्लोक से लिया गया है। 

ईशा वास्यमिदं सर्वं यत्किञ्च जगत्यां जगत्‌।    
तेन त्यक्तेन भुञ्जीथा मा गृधः कस्यस्विद्धनम्‌ ॥

Lokpal logo के लिए खुली प्रतियोगिता आयोजित की

लोगो का डिजाईन 'पब्लिक की देखभाल करने वाले' का प्रतीक है और आकार में इसके विभिन्न सार को चित्रित करता है जिसमे लोकपाल के लिए न्यायाधीशों की बेंच, लोगों के लिए तीन मानव आकृतियाँ, सतर्कता के लिए अशोक चक्र, कानून के लिए नारंगी किताब और एक अनोखा संतुलन बनाने वाले दो तिरंगे हाथ। लोकपाल का लोगो न्यायमूर्ति पिनाकी चन्द्र घोष द्वारा लॉन्च किया गया। सरकारी पोर्टल mygov.in पर और लोकपाल रजिस्ट्री मेल के माध्यम से, लोगो और आदर्श वाक्य/स्लोगन के लिए प्रविष्टियों को आमंत्रित कर एक खुली प्रतियोगिता आयोजित की गई थी। जिसमे व्यक्तियों और संगठनों को 13 जून 2019 तक अपना लोगो डिज़ाइन नवीनतम प्रस्तुत करने के लिए आमंत्रित किया। 

Go Back

Comment

.

Loading...

--------------------------- विज्ञापन ---------------------------