Menu

rajsevak.com

...... Website assist to Govt. employees

►पीर हो गई पर्वत सी, अब तो गंगा निकलनी चाहिए- महेंद्र सिंह

भीलवाड़ा : 20 जनवरी 2017, अखिल राजस्थान राज्य कर्मचारी संयुक्त महासंघ एकीकृत के प्रदेश अध्यक्ष श्रीमान महेंद्र सिंह के नेतृत्व में जागृति यात्रा भीलवाड़ा स्थित वरिष्ठ नागरिक भवन पहुंची ! यात्रा का उपस्थित सैकड़ों कर्मचारियों ने माल्यार्पण और जयकारे के साथ स्वागत किया ! महासंघ द्वारा आयोजित सभा की अध्यक्षता प्रदेश अध्यक्ष श्री महेंद्र सिंह जी ने की! कार्यक्रम की मुख्य अतिथि श्रीमती हंसा त्यागी प्रदेश अध्यक्ष राजस्थान राज्य कर्मचारी संघ थे! सभा में अध्यक्षीय उदबोधन में प्रदेशाध्यक्ष महेंद्र सिंह ने  कर्मचारियों की पीड़ा के बारे में कहा की पीड़ा हो गई पर्वत सी, अब तो गंगा निकलनी चाहिए! अब तो कर्मचारियों की मांग पूरी होनी चाहिए ! कर्मचारियों के साथ  असमानता बंद हो और सरकार व्यवस्था बदलते हुए समान कार्य के लिए समान वेतन लागू करेंI उन्होंने कर्मचारियों को कहा कि अब सोने का समय नहीं है, जागने का वक्त आ गया है ! सरकार के 2 साल बाकी है, संगठित रहकर जागृति पैदा करें! समय को पहचाने ! कर्मचारी ही कर्तव्य पालन से राष्ट्र का विकास करते हुए राष्ट्रीय भक्ति का परिचय देते हैं ! सरकार अल्प मानदेय वाले आंगनबाड़ी, कार्यकर्ता, सहायिका, सहयोगिनी, आशा, कुक कम हेल्पर,  पैरा टीचर, जनताजलयोजना सहित अल्प मानदेय पर काम करने वालों को नियमित कर पूरा वेतन देने, विद्यार्थी मित्र, कंप्यूटर टीचर को  सेवा में लेने, संविदा - निविदा कर्मियों के वेतन वृद्धि व नियमित करने,  कर्मचारियों को जनवरी 2016 से सातवां वेतन का लाभ दिलाने के लिए सरकार के समक्ष संख्या बल का प्रदर्शन 12 फरवरी को अजमेर में संभाग अधिवेशन में किया जाएगा ! उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में सिर कटाने की जरूरत नहीं है, सिर गिनाने की जरूरत है ! महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष ने शक्ति और युक्ति बराबर सफलता के फार्मूले से मांगे पूरी कराए जाने का मंत्र दिया ! महासंघ सभी संवर्ग की मांग को अपने मांग पत्र में शामिल कर पूरा करने के लिए संकल्पबद्ध है! 

Go Back



Comment