Menu

Unique Website for Government Employees - RAJSEVAK.COM - RAJASHTHAN GOVERNMENT EMPLOYEES HELPLINE PORTAL

 RS-CIT Result  फीस पुनर्भरण हेतु   ► GUIDENCE  PRE-RECEIPT

COMPUTER - GENERAL KNOWLEDGE
CHAPTER - 1

पर्सनल कम्प्यूटर

पर्सनल कम्प्यूटर माइक्रो कम्प्यूटर समानार्थक से जाने वाले वैसे कम्प्यूटर प्रणाली है जो विशेष रूप से व्यक्तिगत अथवा छोटे समूह के द्वारा प्रयोग मे लाए जाते हैं। इन कम्प्यूटरों को बनाने में माइक्रोप्रोसेसर मुख्य रूप से सहायक होते है । पर्सनल कम्प्यूटर निर्माण विशेष क्षेत्र तथा कार्य को ध्यान में रखकर किया जाता है। उदाहरणार्थ- घरेलू कम्प्यूटर तथा कार्यालय में प्रयोगकिये जाने वाले कम्प्यूटर। बजारमें, छोटे स्तर की कम्पनियों अपने कार्यालयों के कार्य के लिए पर्सनल कम्प्यूटर को प्राथमिकता देते हैं।
पर्सनल कम्प्यूटर के मुख्य कार्यो में क्रीड़ा-खेलना, इन्टरनेट का प्रयोग , शब्द-प्रक्रिया इत्यादि शामिल हैं। पर्सनल कम्प्यूटर के कुछ व्यवसायिक कार्य निम्नलिखित हैं-

1. कम्प्यूटर सहायक रूपरेखा तथा निर्माण
2. इन्वेन्ट्री तथा प्रोडक्शन कन्ट्रोल
3. स्प्रेडशीट कार्य
4. अकाउन्टिंग
5. सॉफ्टवेयर निर्माण
6. वेबसाइट डिजाइनिंग तथा निर्माण
7. सांख्यिकी गणना

पर्सनल कम्प्यूटर का मुख्य भाग
माइक्रोप्रोसेसर वह चीप होती जीस पर कंट्रोल यूनिट और ए. एल. यू. एक परिपथ होता है। माइक्रोप्रोसेसर चिप तथा अन्य डिवाइस एक इकाई में लगे रहते है, जिसे सिस्टम यूनिट कहते है। पी,सी. में एक सिस्टम यूनिट, एक मनिटर या स्क्रीन एक की बोर्ड एक माउस और अन्य आवश्यक डिवाइसेज, जैसे प्रिंटर, मॉडेम, स्पीकर, स्कैनर, प्लॉटर , ग्राफिक टेबलेट , लाइच पेन आदि होते हैं।

पर्सनल कम्प्यूटर का मूल सिद्धान्त
पी.सी एक प्रणाली है जिसमें डाटा और निर्देशों को इनपुट डिवाइस के माध्यम से स्वीकार किया जाता है। इस इनपुट किये गये डाटा व निर्देशों को आगे सिस्टम यूनिट में पहुँचाया जाता है, जहाँ निर्देशों के अनुसार सी. पी. यू. डाटा पर क्रिया या प्रोसेसिंग का कार्य करता है और परिचय को आउटपुट यूनिट मॉनीटर या स्क्रीन पर भेज देता है। यह प्राप्त परिणाम आउटपुट कहलाता है। पी. सी में इनपुट यूनिट में प्रायः की-बोर्ड और माउस काम आते है जबकि आउटपुट यूनिट के रूप में मॉनिटर और प्रिटर काम आते हैं।

कम्प्यूटर अपना काम कैसे करता है ?

1.इनपुट के साधन जैसे की-बोर्ड, माउस, स्कैनर आदि के द्वारा हम अपने निर्देश,प्रोग्राम तथा इनपुट डाटा प्रोसेसर को भेजते हैं ।
2.प्रोसेसर हमारे निर्देश तथा प्रोग्राम का पालन करके कार्य सम्पन्न करता है ।
3.भविष्य के प्रयोग के लिए सूचनाओं को संग्रह के माध्यमों जैसे हार्ड डिस्क, फ्लापी डिस्क आदि पर एकत्र किया जा सकता है ।
4.प्रोग्राम का पालन हो जाने पर आउटपुट को स्क्रीन, प्रिंटर आदि साधनों पर भेज दिया जाता है ।

सेन्ट्रल प्रोसेसिंग यूनिट सेन्ट्रल प्रोसेसिंग यूनिट को हिन्दी में केन्द्रीय विश्लेषक इकाई भी कहा जाता है । इसके नाम से ही स्पष्ट है, यह कम्प्यूटर का वह भाग है, जहां पर कम्प्यूटर प्राप्त सूचनाओं का विश्लेषण करता है ।  सेन्ट्रल प्रोसेसिंग यूनिट (सी.पी.यू.) को पुनः तीन भागों में बांटा जा सकता है
1. कन्ट्रोल यूनिट
2. ए.एल.यू.
3. स्मृति

कन्ट्रोल यूनिट
कन्ट्रोल यूनिट का कार्य कम्प्यूटर की इनपुट एवं आउटपुट युक्तियों को नियन्त्रण में रखना है । कन्ट्रोल यूनिट के मुख्य कार्य है –
1. सर्वप्रथम इनपुट युक्तियों की सहायता से सूचना/डेटा को कन्ट्रोलर तक लाना ।
2. कन्ट्रोलर द्वारा सूचना/डेटा को स्मृति में उचित स्थान प्रदान करना ।
3. स्मृति से सूचना/डेटा को पुनः कन्ट्रोलर में लाना एवं इन्हें ए.एल.यू. में भेजना ।
4. ए.एल.यू.से प्राप्त परिणामों को आउटपुट युक्तियों पर भेजना एवं स्मृति में उचित स्थान प्रदान करना ।

ए.एल.यू.
कम्प्यूटर की वह इकाई जहां सभी प्रकार की गणनाएं की जा सकती है, अर्थमेटिक एण्ड लॉजिकल यूनिट कहलाती है ।

स्मृति
किसी भी निर्देश, सूचना अथवा परिणाम को संचित करके रखना ही स्मृति कहलाता है । कम्प्यूटर के सी.पी.यू. में होने वाली समस्त क्रियायें सर्वप्रथम स्मृति में जाती है । तकनीकी रूप में मेमोरी कम्प्यूटर का कार्यकारी संग्रह है । मेमोरी कम्प्यूटर का अत्यधिक महत्वपूर्ण भाग है जहां डाटा, सूचना और प्रोग्राम प्रक्रिया के दौरान स्थित रहते हैं और आवश्यकता पड़ने पर तत्काल उपलब्ध होते हैं ।

इनपुट युक्ति
आमतौर पर की-बोर्ड एवं माउस है । इनपुट युक्ति एक नली के समान है जिसके द्वारा आँकडे एवं निर्देश कम्प्यूटर में प्रवेश करते है ।

हार्डवेयर सॉफ्टवेयर

अव्यावहारिक तौर पर अगर कंप्यूटर को परिभाषित किया जाये तो हम हार्डवेयर को मनुष्य का शरीर और सॉफ्टवेर को उसकी आत्मा कह सकते हैं. हार्डवेयर कंप्यूटर के हिस्सों को कहते हैं, जिन्हें हम अपनी आँखों से देख सकते हैं, छू सकते हैं अथवा औजारों से उनपर कार्य कर सकते हैं! ये वास्तविक पदार्थ है! इसके विपरीत सॉफ्टवेयर कोई पदार्थ नहीं है! ये वे सूचनाएं, आदेश अथवा तरीके हैं जिनके आधार पर कंप्यूटर का हार्डवेयर कार्य करता है! कंप्यूटर हार्डवेयर सॉफ्टवेयर से परिचित होते हैं अथवा सॉफ्टवेयर कंप्यूटर के हार्वेयर से परिचित एवं उनपर आधारित होते हैं!

हार्डवेयर का निर्माण कारखानों में होता है, जबकि सॉफ्टवेयर कंप्यूटर ज्ञाता के मस्तिष्क की सोच द्वारा बनाएं जाते हैं, जिनके आधार पर कल -कारखाने हार्डवेयर को उत्पादित करते हैं! सामन्य भाषा में कहा जाए तो सॉफ्टवेयर कंप्यूटर द्वारा स्वीकृत विनिर्देश होते हैं जिनके माध्यम से कंप्यूटर कार्य करते हैं! कंप्यूटर हार्डवेयरों के निर्माण में उच्च टेक्नोलोजी का इस्तेमाल किया जता है! इनका निर्माण कल -कारखानों में ही मशीनों व उपकरणों की सहायता से होता है! सॉफ्टवेयर कंप्यूटर सिद्धांतो के आधार पर हार्डवेयर के लिए आवश्यक निर्देश होते हैं, इन्हें तैयार करने के लिए किसी कारखाने की आवश्यकता नहीं होती! कोई भी व्यक्ति जो कंप्यूटर के मूल सिद्धांतो एवं कार्य प्रणाली से परिचित हो अपने मस्तिष्क के उपयोग से सॉफ्टवेयर तैयार कर सकता है

कंप्यूटर की मूल इकाईयॉ

कंप्यूटर की मूल इकाइयों का मतलब कंप्यूटर की उन बातों से है जिनसे कंप्यूटर की गणनाओं का काम प्रारंभ होता है.

बिट
बिट अर्थात Binary digT, कम्प्यूटर की स्मृति की सबसे छोटी इकाई है । यह स्मृति में एक बायनरी अंक 0 अथवा 1 को संचित किया जाना प्रदर्शित करता है । यह बाइनरी डिजिट का छोटा रूप है. यहाँ एक सवाल उठता हैं की बिट ० और १ ही क्यू होता है ३-४ क्यू नहीं ? तो इसका जवाब दो तरह से आता हैं,

– चूकी गणितीय गणना के लिये विज्ञानियों को ऐसा अंक चाहीये था जो किसी भी तरह के गणना को आगे बढ़ाने या घटाने पर गणितीय उतर पर असर न डाले तो केवल ० एक मात्र एसी संख्या हैं जिसे किसी भी अंक के साथ जोड़ने या घटाने पर कोई फर्क नहीं पड़ता और १ एक मात्र ऐसी संख्या हैं जिसे किसी अंक के साथ गुणा या भाग देने पर कोई फर्क नहीं पड़ता.

-दूसरी तरफ इलेक्ट्रॉनिकस में हम जानते हैं की ० और १ क्रमशः ऑन और ऑफ को दिखलाता हैं. कंप्यूटर भी इलेक्ट्रॉनि सिग्नल को ही पहचानता हैं इस कारण ० और १ का उपयोग किया जाता हैं.

बाइट
यह कम्प्यूटर की स्मृति (memory) की मानक इकाई है । कम्प्यूटर की स्मृति में की-बोर्ड से दबाया गया प्रत्येक अक्षर, अंक अथवा विशेष चिह्न ASCII Code में संचित होते हैं । प्रत्येक ASCII Code 8 byte का होता है । इस प्रकार किसी भी अक्षर को स्मृति में संचित करने के लिए 8 बिट मिलकर 1 बाइट बनती है ।

कैरेक्टर
संख्यांको के अलावा वह संकेत है जो भाषा और अर्थ बताने के काम आते है । उदाहरण के लिए हम देखे
a b c d e f g h i j k l m n o p q r s t u v w x y z A B C D E F G H I J K L M N O P Q R S T U V W X Y Z 0 1 2 3 4 5 6 7 8 9 ! @ # $ % ^ & * ( ) _ – = + | \ ` , . / ; ‘ [ ] { } : ” < > ?
कम्प्यूटर सिस्टम सामान्यतः कैरेक्टर को संचित करने के लिए ASCII कोड का उपयोग करते हैं । प्रत्येक कैरेक्टर 8 बिटस का उपयोग करके संचित होता है ।

मैमोरी युक्तियॉ

प्राथमिक संग्रहण
यह वह युक्तियाँ होती हैं जिसमें डेटा व प्रोग्राम्स तत्काल प्राप्त एवं संग्रह किए जाते हैं ।

1.रीड-राइट मेमोरी,रैम(RAM)
Random access memory – कंप्यूटर की यह सबसे महवपूर्ण मेमोरी होती है. इस मेमोरी में प्रयोगकर्ता अपने प्रोग्राम को कुछ देर के लिए स्टोर कर सकते हैं । साधारण भाषा में इस मेमोरी को RAM कहते हैं । यही कम्प्यूटर की बेसिक मेमोरी भी कहलाती है । यह निम्नलिखित दो प्रकार की होती है –

डायनेमिक रैम (DRAM)
डायनेमिक का अर्थ है गतिशील । इस RAM पर यदि 10 आंकड़े संचित कर दिए जाएं और फिर उनमें से बीच के दो आंकड़े मिटा दिए जाएं, तो उसके बाद वाले बचे सभी आंकड़े बीच के रिक्त स्थान में स्वतः चले जाते हैं और बीच के रिक्त  स्थान का उपयोग हो जाता है ।

स्टैटिक रैम (SRAM)
स्टैटिक रैम में संचित किए गए आंकड़े स्थित रहते हैं । इस RAM में बीच के दो आंकड़े मिटा दिए जाएं तो इस खाली स्थान पर आगे वाले आंकड़े खिसक कर नहीं आएंगे । फलस्वरूप यह स्थान तब तक प्रयोग नहीं किया जा सकता जब तक कि पूरी मेमोरी को “वाश” करके नए सिरे से काम शुरू न किया जाए ।

2.रीड ओनली मेमोरी (Read Only Memory)
आधुनिक कंप्यूटर की महत्वपूर्ण मेमोरी ROM  उसे कहते हैं, जिसमें लिखे हुए प्रोग्राम के आउटपुट को केवल पढ़ा जा सकता है, परन्तु उसमें अपना प्रोग्राम संचित नहीं किया जा सकता । बेसिक इनपुट आउटपुट सिस्टम ( BIOS) नाम का एक प्रोग्राम ROM का उदाहरण है, जो कम्प्यूटर के ऑन होने पर उसकी सभी इनपुट आउटपुट युक्तियों की जांच करने एवं नियंत्रित करने का काम करता है ।

प्रोग्रामेबिल रॉम (PROM)
इस स्मृति में किसी प्रोग्राम को केवल एक बार संचित किया जा सकता है, परंतु न तो उसे मिटाया जा सकता है और न ही उसे संशोधित किया जा सकता है ।

 

इरेजेबिल प्रॉम (EPROM)
इस I.C. में संचित किया गया प्रोग्राम पराबैंगनी किरणों के माध्यम से मिटाया ही जा सकता है । फलस्वरुप यह I.C. दोबारा प्रयोग की जा सकती है ।इलेक्ट्रिकली-इ-प्रॉम (EEPROM)
इलेक्ट्रिकली इरेजेबिल प्रॉम पर स्टोर किये गये प्रोग्राम को मिटाने अथवा संशोधित करने के लिए किसी अन्य उपकरण की आवश्यकता नहीं होती । कमाण्ड्स दिये जाने पर कम्प्यूटर में उपलब्ध इलैक्ट्रिक सिगल्स ही इस प्रोग्राम को संशोधित कर देते हैं । 

कम्पाइलर
कम्पाइलर किसी कम्प्यूटर के सिस्टम साफ्टवेयर का भाग होता है । कम्पाइलर एक ऐसा  प्रोग्राम है, जो किसी उच्चस्तरीय भाषा में लिखे गए प्रोग्राम का अनुवाद किसी कम्प्यूटर की मशीनी भाषा में कर देता है । निम्न चित्र में इस कार्य को दिखाया गया है ।

उच्चस्तरीय भाषा प्रोग्राम –> कम्पाइलर –> मशीनी भाषा प्रोग्राम

हर प्रोग्रामिंग भाषा के लिए अलग-अलग कम्पाइलर होता है पहले वह हमारे प्रोग्राम के हर कथन या आदेश की जांच करता है कि वह उस प्रोग्रामिंग भाषा के व्याकरण के अनुसार सही है या नहीं ।यदि प्रोग्राम में व्याकरण की कोई गलती नहीं होती, तो कम्पाइलर के काम का दूसरा भाग शुरू होता है ।यदि कोई गलती पाई जाती है, तो वह बता देता है कि किस कथन में क्या गलती है । यदि प्रोग्राम में कोई बड़ी गलती पाई जाती है, तो कम्पाइलर वहीं रूक जाता है । तब हम प्रोग्राम की गलतियाँ ठीक करके उसे फिर से कम्पाइलर को देते हैं ।

इन्टरप्रिटर
इन्टरपेटर भी कम्पाइलर की भांति कार्य करता है । अन्तर यह है कि कम्पाइलर पूरे प्रोग्राम को एक साथ मशीनी भाषा में बदल देता है और इन्टरपेटर प्रोग्राम की एक-एक लाइन को मशीनी भाषा में परिवर्तित करता है । प्रोग्राम लिखने से पहले ही इन्टरपेटर को स्मृति में लोड कर दिया जाता है । 

कम्पाइलर और इन्टरप्रिटर में अन्तर
इन्टरपेटर उच्च स्तरीय भाषा में लिखे गए प्रोग्राम की प्रत्येक लाइन के कम्प्यूटर में प्रविष्ट होते ही उसे मशीनी भाषा में परिवर्तित कर लेता है, जबकि कम्पाइलर पूरे प्रोग्राम के प्रविष्ट होने के पश्चात उसे मशीनी भाषा में परिवर्तित करता है ।

Computer Introduction

सम्पूर्ण विश्व मे शायद ही कोई इंसान बचा होगा जो इस शब्द से अभी तक अनजान होगा. कम्प्यूटर एक इलैक्ट्रोनिक डिवाइस है । जो इनपुट के माध्यम से आंकडो को ग्रहण करता है उन्हे प्रोसेस करता है एवं सूचनाओ को निर्धारित स्थान पर स्टोर करता है ! कम्पयूटर एक क्रमादेश्य मशीन है । कम्पयूटर की निम्नलिखित विशेषताएँ है ।

1)कम्पयूटर विशिष्ठ निर्देशो को सुपरिभाषित ढंग से प्रतिवाधित करता है ।
2)यह पहले संचित निर्देशो को क्रियान्वित करता है ।

वर्तमान के कम्पयूटर इलेक्ट्रानिक और डिजिटल है । इनमे मुख्य रूप से तार ट्रांजिस्टर एवं सर्किट का उपयोग किया जाता है । जिसे हार्डवेयर कहा जाता है । निर्देश एवं डेटा को साफ्टवेयर कहा जाता है । कम्प्यूटर अपने काम-काज, प्रयोजन या उद्देश्य तथा रूप-आकार के आधार पर विभिन्न प्रकार के होते हैं। वस्तुतः इनका सीधे-सीधे अर्थात प्रत्यक्षतः (Direct) वर्गीकरण करना कठिन है, इसलिए इन्हें हम निम्नलिखित तीन आधारों पर वर्गीकृत करते हैं :

1. अनुप्रयोग के आधार पर कम्प्यूटरों के प्रकार
.यद्यपि कम्प्यूटर के अनेक अनुप्रयोग हैं जिनमे से तीन अनुप्रयोगों के आधार पर कम्प्यूटरों के तीन प्रकार होते हैं :
(a)एनालॉग कम्प्यूटर
(bडिजिटल कम्प्यूटर
(c) हाईब्रिड कम्प्यूटर

2. उद्देश्य के आधार पर कम्प्यूटरों के प्रकार
कम्प्यूटर को दो उद्देश्यों के लिए हम स्थापित कर सकते हैं- सामान्य और विशिष्ट , इस प्रकार कम्प्यूटर उद्देश्य के आधार पर निम्न दो प्रकार के होते हैं :
(a ) सामान्य-उद्देशीय कम्प्यूटर
(b ) विशिष्ट -उद्देशीय कम्प्यूटर 

3. आकार के आधार पर कम्प्यूटरों के प्रकार
आकार के आधार पर हम कम्प्यूटरों को निम्न श्रेणियाँ प्रदान कर सकते हैं –
1. माइक्रो कम्प्यूटर
2. वर्कस्टेशन
3. मिनी कम्प्यूटर
4. मेनफ्रेम कम्प्यूटर
5. सुपर कम्प्यूटर

1. सेविंग की प्रक्रिया है – मेमोरी से स्टोरेज माध्यम तक दस्तावेज कॉपी करना
2. डाइरेक्टरी के अंदर की डाइरेक्टरी को कहा जाता है – सब डाइरेक्टरी
3. C.A.D. का तात्पर्य है – कंप्यूटर एडेड डिजाइन
4. ओरेकल है – डाटाबेस सॉफ्टवेयर
5. असेम्बलर का कार्य है – असेम्बली भाषा को यंत्र भाषा में परिवर्तित करना
6. भारत में सर्वप्रथम दिखाई देने वाला कंप्यूटर वाइरस है – सी-ब्रेन
7. उस नेटवर्क टोपोलॉजी का क्या नाम है, जिसमें प्रत्येक संभावित नोड में द्विदिशीय कड़ियां हैं? – मेश
8. वह बिंदु जिस पर डाटा कंप्यूटर में प्रवेश करता है या निकलता है – टर्मिनल
9. विश्व का प्रथम कंप्यूटर नेटवर्क माना जाता है – ARPANET
10. लिनक्स एक उदाहरण है – ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर का
11. पहले से चल रहे कंप्यूटर को रीस्टार्ट करना कहलाता है – रीबूटिंग
12. सॉफ्टवेयर कोड में त्रुटियां ढूंढ़ने की प्रक्रिया को कहा जाता है – डीबगिंग
13. सीपीयू का वह भाग जो अन्य सभी कंप्यूटर कंपोनेन्टस की गतिविधियों को कोआर्डिनेट करता है – कंट्रोल यूनिट
14. कंप्यूटर में जाने वाले डेटा को कहते हैं – इनपुट
15. कंप्यूटर में डेटा किसे कहा जाता है? – चिन्ह व संख्यात्मक सूचना को
16. A.L.U. का पूरा नाम होता है – Arithmetic logic unit
17. कंप्यूटर का नियंत्रक भाग कहलाता है – सी. पी. यू.
18. कंप्यूटर के सभी भागों के बीच सामंजस्य स्थापित करता है – कंट्रोल यूनिट
19. माइक्रोप्रोसेसर जो कंप्यूटर का मस्तिष्क होता है, उसे कहा जाता है – माइक्रोचिप
20. ALU परिचालन संपन्न करता है – अर्थमैटिक
21. एक हार्डवेयर डिवाइस जो डाटा को अर्थपूर्ण इनफार्मेशन में परिवर्तित करता है – प्रोसेसर
22. CRAY क्या है? – सुपर कंप्यूटर
23. टेलीप्रोसेसिंग तथा टाइमशेयरिंग का प्रयोग किस पीढ़ी के कंप्यूटर में हुआ? – तृतीय पीढ़ी
24. वह उपकरण जो हैन्डहेल्ड ऑपरेटिंग प्रणाली का इस्तेमाल करता है? – पीडीए

25. कंप्यूटर कितने प्रकार के होते हैं? – दो प्रकार के by allgovtjobs
26. प्वाइंट एंड ड्रॉ डिवाइस कहा जाता है – माउस को
27. ट्रैक बाल उदाहरण है – पॉइंटिंग डिवाइस
28. सॉफ्ट कॉपी एक आउटपुट है, तो हार्ड कॉपी क्या है? – प्रिंटेड आउटपुट
29. सेकंडरी स्टोरेज मीडिया से हार्डडिस्क में सॉफ्टवेयर प्रोग्रामों को कॉपी करने की प्रक्रिया को कहते हैं – इनस्टॉलेशन
30. किस मेमोरी में रखा डाटा बिजली जाते ही समाप्त हो जाता है? – रैम
31. डीवीडी उदाहरण है – ऑप्टिकल डिस्क
32. CD-RW का पूरा नाम है – Compact Disc rewritable
33. सूचनाएं एक यूनिट से दूसरी यूनिट तक ले जाने व उन्हें वापस लाने का काम कौन करता
है? – डाटा बेस
34. कंप्यूटर में अनवरत विद्युत आपूर्ति का संक्षिप्त रूप क्या है? – यू. पी. एस.
35. मदरबोर्ड में क्या  है जो मदरबोर्ड पर सीपीयू को दूसरे पुर्जों से जोड़ता है? – सिस्टम बस
36. प्रथम गणना यंत्र है – अबैकस
37. विंडोज डम् में, डम् से क्या शब्द बनता है? – Millennium
38. मॉड्यूलेटर-डी-मॉड्यूलेटर का सामान्य नाम है – मोडे
39. पहले से ऑन कंप्यूटर को रीस्टार्ट करने को क्या कहते हैं? – वार्म बूटिंग
40. HTML डॉक्युमेंट बनाने के लिए किसकी जरूरत होती है? – टैक्स्ट एडीटर की
41. कंप्यूटर से अधिकाश प्रोसेसिंग होती है – सीपीयू मे
42. वेबसाइट कलेक्शन है – वेब पेजेस का
43. किस प्रोग्रामिंग लैंग्वेज को ट्रांसलेटर की जरूरत नहीं होती है? – मशीन लैंग्वेज
44. एक्सेल स्प्रेडशीट का एक्स्टेंशन है – .xls
45. फाइल एक्सटेंशन इस्तेमाल होते हैं? – फाइल टाइप आइडेंटिफाई करने के लिए
46. एक्सेल वर्कबुक संग्रह है – वर्कशीट का
47. ई-मेल पते के दो भाग कौन-से होते हैं? – प्रयोक्ता का नाम और डोमेन नंबर
48. कैड शब्द का संबंध कंप्यूटर में किससे हैं? – डिजाइन से
49. भारत में निर्मित प्रथम कंप्यूटर का नाम क्या है? – सिद्धार्थ

50. कंप्यूटर प्रोग्रामों को हाई-लेवल प्रोग्रामिंग लैंग्वेज के रूप में लिखा जाता है। मानव द्वारा
पढ़े जाने योग्य प्रोग्राम के अनुवाद को कहा जाता है – सोर्स कोड
51. C, BASIC, COBOL और JAVA जिस भाषा के उदाहरण हैं, उसे कहते हैं – हाई-लेवल
52. ASCII का पूर्ण रूप होता है – American Standard Code for Information
Interchange
53. कंप्यूटर का पितामह कहा जाता है – चार्ल्स बेबेज
54. सर्वप्रथम आधुनिक कंप्यूटर की खोज हुई – 1946 में
55. कंप्यूटर के संचालन में प्रयुक्त प्रोग्राम, नियम तथा कंप्यूटर क्रियाओं से संबंधित अन्य
लिखित सामग्री को कहा जाता है – सॉफ्टवेयर
56. कंप्यूटर के मस्तिष्क को कहा जाता है – सी. पी. यू.
57. इंटीग्रेटेड सर्किट चिप का विकास किसने किया है – जे. एस. किल्बी ने
58. इंटीग्रेटेड सर्किट चिप (I.C.) पर किसकी परत होती है? – सिलिकॉन
59. चुम्बकीय डिस्क पर किस पदार्थ की परत होती है? – आयरन ऑक्साइड
60. कंप्यूटर में किसी शब्द की लम्बाई किसमें मापते है – बिट
61. स्टोरेज माध्यम की क्षमता की इकाई है – बाइट
62. एम एस विंडोज किस प्रकार का सॉफ्टवेयर है? – GUI
63. वह कौन-सा डिवाइस है जो दो या अधिक नेटवर्कों का जोड़ता हैं? – गेटवे
64. कंप्यूटर्स विशिष्टतः किसके साथ कार्य करके, आंकड़ों की सूचना में प्रोसेसिंग करते हैं? –
नंबर्स
65. निर्माण प्रक्रिया में किस मेमोरी चिप को प्रोग्राम किया जाता है? – ROM
66. एक बाइट का कलेक्शन है – आठ बिट्स
67. CD-ROM किसका उदाहरण है – इनपुट डिवाइस का
68. कम्पाइलर है – स्त्रोत प्रोग्राम का ऑब्जेक्ट कोड में अनुवादक
69. वोलेटिलिटी किसकी प्रोपर्टी है? – रैम
70. जावा उदाहरण है – उच्चस्तरीय भाषा (लैंग्वेज)
71. वह हार्डवेयर डिवाइस जिस आमतौर पर कंप्यूटर का मस्तिष्क कहा जाता है, वह है –
सीपीयू
72. जब कंप्यूटर दिए गए अनुदेशों पर कार्य करता है, तो उसे कहा जाता है – प्रोसेसिंग
73. वह इनपुट डिवाइस, जो सुपर बाजारों में व्यापक रूप से प्रयोग की जाती है – बार कोड
रीडर

74. एक कंप्यूटर प्रोग्राम – अनुदेशों का एक ऐसा सेट है, जो समस्या सुझलाने अथवा कार्य के
निष्पादन में, कंप्यूटर को समर्थ बनाता है।
75. वे टर्मिनल्स जिन्हें पहले कैश रजिस्टर्स कहते थे, प्रायः कॉम्प्लेक्स इन्वेंटरी तथा विक्रय
कंप्यूटर प्रणालियों से जुड़े होते हैं – प्वाइंट-ऑफ-सेल
76. वायरस, ट्रॉजन होर्सेस तथा वर्म्स – कंप्यूटर प्रणाली को हानि पहुंचाने में सक्षम होते हैं।
77. कंप्यूटर्स डाटा एकत्र करते हैं जिसका अर्थ है कि वे उपयोगकर्ता को अनुमति देते हैं –
इनपुट की
78. वे कंपोनेंट्स जो आंकड़ों का संसाधन करते हैं, वे स्थित होते हैं – प्रणाली यूनिट
79. सॉफ्टवेयर का अर्थ है – प्रोग्राम
80. दस्तावेज प्रिंट करने की शॉर्टकट की है – Ctrl+P
81. बाइनरी लैंग्वेज में अल्फाबेट का प्रत्येक अक्षर, प्रत्येक अंक तथा प्रत्येक विशेष करेक्टर बना  होता है – आठ बिट्स के योग से
82. वे ग्राफिकल तस्वीरें जो फाइल, फोल्डर इत्यादि जैसे ऑब्जेक्ट को रिप्रेजेंट करती हैं,
कहलाती हैं – आइकॉन्स
83. अपनी लागत और आकार के कारण ये कंप्यूटर अपेक्षाकृत विरल (रेअर) हैं – सुपर
कंप्यूटर्स
84. RAM का पूरा नाम है – रैंडम एक्सेस मेमोरी
85 .विशिष्ट इनपुट अथवा आउटपुट डिवाइस को शेष कंप्यूटर प्रणाली के साथ कम्युनिकेट करने
की अनुमति प्रदान करने हेतु डिजाइन किए गए स्पेशलाइज्ड प्रोग्रामों को कहा जाता है –
ऑपरेटिंग सिस्टम
86. इस प्रकार का कंप्यूटर सबसे कम शक्तिशाली है फिर भी इसका सर्वाधिक प्रयोग होता है
और यह तीव्रतम वृद्धि वाले प्रकार का कंप्यूटर है – मिनी कंप्यूटर
87. कंप्यूटर संसाधनों के प्रबंधन सें संबंधित विशिष्ट कार्य करने के लिए डिजाइन किए गए
प्रोग्रामों को कहा जाता है – ऑपरेटिंग सिस्टम
88. सर्वाधिक शक्तिशाली कंप्यूटर है – सुपर कंप्यूटर
89. ऐसी इंटरनेट सेवा जो उपलब्ध संसाधनों को, मल्टीमीडिया इंटरफेस प्रदान करवाती हो, उसे  कहते � वर्ड वाइव वेब
90. वर्ड प्रोसेसिंग सॉफ्टवेयर का निर्माण करने के लिए प्रयोग में लाया जाता है – डॉक्युमेंट्स
91. ऐसी डिवाइस जो केबल के प्रयोग के बिना ही नेटवर्क से जोड़ती हो, इसे कहा जाता है –
वायरलेस
92. मेन्यू भाग होते हैं – स्टेट्रस बार का
93. वेबसाइटों को देखने के लिए प्रयुक्त किए जाने वाले प्रोग्राम को कहते हैं – ब्राउजर
94. एक ही समय में विभिन्न प्रकार के कितने डॉक्युमेंट्स को आप खुला रख सकते हैं? – इतने अधिक जितने कि आपकी कंप्यूटर मेमोरी होल्ड कर सकती है
95. GUI का पूर्ण रूप है – ग्राफिकल यूजर इंटरफेस
96. वेब पेज में वह कौन-सा शबद है जिसे क्लिक किया जाए, तो दूसरा डॉक्यूमेंट खुलता है? –  हाइपरलिंक
97. सीपीयू में होता है – एक कंट्रोल यूनिट और एक अर्थमेटिक लॉजिक यूनिट
98. कंप्यूटर बूट नहीं कर सकता यदि, उसमें नहीं होगी – ऑपरेटिंग प्रणाली
99. रीड ओनली मेमोरी (ROM) की कौन-सी विशेषता उसे उपयोगी बनाती है ? – ROM में
डाटा को खतरा नहीं होता, बिजली न होने पर भी वह उसमें रहता है
100. कंप्यूटर नेटवर्क में कौन-से प्रकार का संसाधन सामान्यतः शेयर किया जाता है – प्रिंटर्स
101. पेज पर कितने मार्जिन होते हैं? – चार
102. एक डिजिटल वाच में किस तरह का कंप्यूटर हो सकता है? – इम्बेडेड कंप्यूटर
103. हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर का संयोजन है जो कंप्यूटिंग डिवाइसेज के बीच सूचनाओं के
आदान-प्रदान को सुगम बनाता है – नेटवर्क
104. डम्ब टर्मिनल क्या है? – सेंट्रल कंप्यूटर
105. इंटरनेट का अर्थ है – नेटवर्कों का बड़ा नेटवर्क
106. बैकअप क्या है? – सिस्टम की इनफॉरमेशन की ठीक वैसी ही प्रतिलिपि
107. वर्ड का वह फीचर जो कुछ स्पैलिंगों, टाइपिंग, कैपिटल अक्षरों या व्याकरण की त्रुटियों को अपने आप ठीक कर देता है – ऑटोकरेक्ट

108. स्टोरेज डिवाइस पर जो मुख्य फोल्डर होता है, उसे क्या कहा जाता है? – रूट डाइरेक्टरी
109. वह चीज, जो निर्देशों को सरलता से समझ गई है, कहलाती है – यूजर फ्रेंडली
110. वे विशिष्ट प्रोग्राम जो वेब पर आवश्यक सामग्री को ढूंढ़ने में उपयोगकर्ता की मदद करते हैं, कहलाते हैं – सर्च इंजन
111. वर्ड में किसी डॉक्यूमेंट में किसी विशिष्ट शब्द या मुहावरे को ढूंढ़ने के लिए सबसे सरल
और त्वरित तरीका है – फाइंड कमांड का उपयोग करना
112. इंटरनेट पर सर्वर से कंप्यूटर द्वारा सूचना प्राप्त किए जाने की प्रक्रिया को कहते हैं –
डाउनलोडिंग
113. ब्रोशर, पोस्टर और न्यूजलैटर बनाने के लिए किस प्रकार का सॉफ्टवेयर सबसे ज्यादा
उपयोगी है? – डेस्कटॉप पब्लिशिंग सॉफ्टवेयर
114. चैट क्या है? – टाइप की हुई बातचीत जो कंप्यूटर पर घटित होती है
115. अरिथमेटिक ऑपरेशन – में जमा, घटाना, गुणा और भाग शामिल है।
116. स्लाइड शो बनाने के लिए किस एप्लीकेशन का इस्तेमाल होता है? – पावरप्वाइंट
117. जंक ई-मेल का अन्य नाम है? – स्पैम
118. ई-कॉमर्स के जरिए क्या संभव है? – इंटरनेट पर बिजनेस करना
119. वर्तमान डॉक्युमेंट में बदलाव क्या कहलाता है? – एडिटिंग
120. आपस में संबंधित फाइलों का संग्रह क्या कहलाता है? – रिकॉर्ड
121. अपनी स्थिति से हिलाए न जा सकने वाला मॉडेम क्या कहलाता है? – फिक्सड मॉडेम
122. किसी डिवाइस द्वारा इस्तेमाल किए जाने वाले सभी कैरेक्टर्स को क्या कहते है? –
कैरेक्टर सेट
123. ईमेल एड्रेस याद करने से बचने के लिए क्या इस्तेमाल करना चाहिए? – एड्रेसबुक
124. मॉडेम का कनेक्शन किसके साथ किया जाता है? – फोनलाइन
125. कंप्यूटर से जुड़े KB का क्या अर्थ है? – किलोबाइट
126. डाटा प्रोसेसिंग का क्या अर्थ है? – वाणिज्यिक उपयोग के लिए जानकारी तैयार करना
127. प्रोसेस्ड डेटा को क्या कहते हैं? – आउटपुट
128. सीपीयू के एएलयू में होते हैं – रजिस्टर

129. प्रोसेसर के तीन मुख्य भाग होते हैं – ALU, कंट्रोल यूनिट और रजिस्टर
130. माइक्रोप्रोसेसर जो कंप्यूटर का मस्तिष्क होता है, उसे कहा जाता है – माइक्रोचिप
131. माइक्रो प्रोसेसर किस पीढ़ी का कंप्यूटर है? – चतुर्थ
132. कंप्यूटर का जनक किसे कहा जाता है? – चार्ल्स बैवेज
133. चुम्बकीय डिस्क पर किस पदार्थ की परत होती है? – आयरन ऑक्साइड
134. एक्सपैंशन कार्ड में इन्सर्ट किए जाते हैं – स्लॉट
135. इलेक्ट्रॉनिक कंपोनेन्ट वाले थिन प्लेट या बोर्ड को कहते हैं – सर्किट बोर्ड
136. वह सर्किट बोर्ड जिसमें सीपीयू और अन्य चिप होते हैं, उसे कहा जाता है – मदरबोर्ड
137. विशेष प्रकार के संगीत उपकरणों को साउंड कार्डों से कौन-सा पोर्ट जोड़ता है? – MIDI
138. पास्कल है – कंप्यूटर की एक भाषा
139. प्रोग्रामन हेतु विकसित की गई सर्वप्रथम भाषा कौन है? – फोरट्रॉन
140. वे वड्र्स जिन्हें प्रोग्रामिंग लैंग्वेज ने अपने स्वयं के उपयोग हेतु अलग रखा है – रिजर्वड
वड्र्स
141. प्रोग्राम हेतु विकसित की गई सर्वप्रथम भाषा – फोरट्रॉन
142. वे वड्र्स जिन्हें प्रोग्रामिंग लैंग्वेज ने अपने स्वंय के उपयोग हेतु अलग रखा है – रिजर्वड
वड्र्स
143. प्रोग्राम हेतु विकसित की गई सर्वप्रथम भाषा – फोरट्रॉन
144. किसी प्रोग्राम का चित्र के रूप में प्रदर्शन कहलाता है – फ्लोचार्ट
145. कंप्यूटर भाषा FORTRAN किस क्षेत्र में उपयोगी है? – विज्ञान
146. कंप्यूटर भाषा COBOL किसके लिए उपयोगी है? – व्यावसायिक कार्य
147. मशीन लैंग्वेज प्रयोग करती है – न्यूमैरिक कोड
148. मल्टीमीडिया वेबपेज वेबसाइट और वेब आधारित एप्लिकेशन विकसित करने के लिए
सबसे लोकप्रिय लैंग्वेज होती है – जावा
149. इंटरनेट में प्रयुक्त कंप्यूटर लैंग्वेज है – जावा
150. यूनिक्स नामक ऑपरेटिंग प्रणाली विशेष रूप में प्रयोग में लाई जाती है – वेब सर्वर्स में
151. किस प्रिंटर द्वारा एक स्ट्रोक में एक अक्षर प्रिंट होता है? – डाट मैट्रिक्स
152. कम्पाइलर कंप्यूटर की किस प्रकार की भाषा है? – निम्नस्तरीय भाषा
153. कौन-सा सॉफ्टवेयर कंप्यूटर के हार्डवयेर को नियंत्रित करता है? सिस्टम
154. कंप्यूटर में काम करने के लिए किस सॉफ्टवेयर का प्रयोग किया जाता है? – एप्लिकेशन
155. स्प्रेडशीट में जिस प्वाइंट पर कॉलम और रोइंटरसेक्ट करते हैं, उसे क्या कहते हैं? –
Cell
156. ट्रैकबॉल किसका उदाहरण है? – प्वाइंटिंग डिवाइस
157. यदि आपका कंप्यूटर खुद को रीबूट करता रहता हैं तो संभावना है कि – इसमें वायरस हैं
158. कमांडो की वे सूचियां जो स्क्रीन पर प्रकट होती हैं – मीनू
159. हार्ड डिस्क से डिलीट की गई फाइलें कहाँ भेजी जाती हैं? – रीसाइकिल बिन
160. E.D.P. क्या है? – इलेक्ट्रॉनिक डेटा प्रोसेसिंग
161. भारत में निर्मित परम कंप्यूटर किस प्रकार का कंप्यूटर है? – सुपर कंप्यूटर
162. माइक्रोप्रोसेसर किस पीढ़ी का कंप्यूटर है? – चतुर्थ
163. की बोर्ड में ‘फक्शन-की’ की संख्या कितनी होती है? – 12
164. कंप्यूटर से पढ़े जाने वाले अलग-अलग लंबाई-चौ ड़ाई की लाइनों वाले कोड को कहते हैं – बार कोड
165. किस प्रिंटर द्वारा स्ट्रोक से अक्षर प्रिंट होता है? – डाट मैट्रिक्स प्रिंटर
166. इंटरनल स्टोरेज किस प्रकार का स्टोरेज है? – प्राइमरी
167. सेल फोनों में किस प्रकार के स्टोरेज डिवाइसों का उपयोग किया जाता है? – फ्लैश
168. डिस्क को ट्रैकों और सेक्टरों में विभाजित करने की प्रक्रिया क्या है? – फार्मेटिंग
169. रैम वोलाटाइल मेमोरी है क्योंकि – डाटा रिटेन करने के लिए इसे सतत पावर सप्लाई
की जरूरत होती है
170. प्रोग्रामों का सेट, जो निर्माण के समय कंप्यूटर के रीड ओनली मेमोरी में प्री-इन्स्टाल होता है –फर्मवेयर
171. भाषा जिसे कंप्यूटर बिना ट्�
जिसे कंप्यूटर बिना ट्रांसलेशन प्रोग्राम के समझता है, कहलाती है – मशीनी भाषा
172. स्टोरेज का सबसे बड़ा यूनिट – टेरा बाइट
173. आठ लगातार बिटों की सीरीज को क्या कहा जाता है? – बाइट
174. प्रथम पीढ़ी के कंप्यूटर प्रयोग करते थे – वैक्यूम ट्यूब
175. कंप्यूटर वाइरस केवल एक प्रकार का सॉफ्टवेयर है, जो मुख्यतया नष्ट करते हैं – प्रोग्रामों को
176. गूगल क्या है? – सर्च इंजन
177. आधुनिक डिजिटल कंप्यूटरों में किस पद्धति का उपयोग किया जाता है? – द्वि-आधारी
अंक पद्धति
178. अरनेट क्या है? – एक कंप्यूटर नेटवर्क
179. नई स्लाइड के लिए कीबोर्ड शॉर्टकट क्या है? – Ctrl+N
180. परस्पर संबंधित रिकॉर्ड के समूह को कहते हैं – डाटाबेस
181. xls एक्सटेंशन का प्रयोग किस तरह की फाइलों के लिए किया जाता है? – एक्सेल
182. ओपन, प्रिंट और सेव सभी बटन स्थित होते हैं – स्टैंडर्ड टूल बार पर
183. स्प्रेडशीट में जिस प्वाइंट पर कॉलम और रो इंटरसेक्ट करते हैं, उसे कहते हैं – सेल
184. वर्ड डाक्यूमेंट का डिफाल्ट फाइल एक्सटेंशन क्या है? – DOC
185. टास्कबार स्थित होता है – स्क्रीन के बॉटम पर
186. कंप्यूटर के स्क्रीन पर ब्लिंक करने वाले प्रतीक को कहते हैं – कर्सर
187. जंक ई-मेल को कहते हैं – स्पैम
188. URL क्या होता है? – वर्ल्ड वाइड वेब पर डाक्युमेंट या पेज का एड्रेस
189. फाइलों को ट्रांसफर करने और संदेशों का आदान-प्रदान करने के लिए किस यूटिलिटी
का प्रयोग होता है – ई-मेल
190. शिक्षा संस्थान सामान्यतया अपने डोमेन नाम में किसका प्रयोग करता है? – .edu
191. ई-कॉमर्स क्या है? – इंटरनेट पर उत्पादों तथा सेवाओं का क्रय व विक्रय
192. इंटरनेट से संबंधित एफ.टी.पी. शब्द का मतलब है – फाइल ट्रान्सफर प्रोटोकॉल
193. भारत में इंटरनेट की शुरुआत कब हुई? – 15 अगस्त, 1995
194. भारत में सर्वप्रथम किस राज्य ने इंटरनेट पर टेलीफोन डायरेक्टरी उपलब्ध कराई है? –
सिक्किम
195. MICR में C का पूरा नाम क्या है? – कैरेक्टर
196. OCR का पूर्ण रूप क्या है? – Optical Character Recognition
197. कितने किलोबाइट मसे एक मेगाबाइट बनता है? – 1024

1. कम्प्यूटर का पितामह (grandfather of computer) चार्ल्स बेबेज को कहा जाता है.

2. कम्प्यूटर के विकास में सर्वाधिक योगदान वॉन न्यूमान का है.

3. विश्व के प्रथम इलेक्ट्रोनिक डिजिटल कम्प्यूटर (electronic digital computer) का नाम “एनीयक” है.

4. भारत में नयी कम्प्यूटर नीति की घोषणा नवम्बर 1984 में की गयी थी.

5. भारत में निर्मित पहला कंप्यूटर “सिद्धार्थ” है.

6. भारत में पहला कंप्यूटर इलेक्ट्रोनिक कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया ने बनाया था (स्थापना-1967)

7. भारत में पहला कम्प्यूटर 16 अगस्त, 1986 को बंगलौर के प्रधान डाकघर में लगाया गया था.

8. कम्प्यूटर में प्रयुक्त होने वाला “IC Chips” सिलिकॉन  का बना होता है.

9. देश का पहला कम्प्यूटरीकृत डाकघर नई दिल्ली का है.

10. भारत में 1970 में 100 कंप्यूटर थे, वर्तमान समय में दो मिनट पर एक नए कम्प्यूटरकी स्थापना हो रही है.

11. वर्ष 1987 से हिंदुस्तान कम्प्यूटर्स लिमिटेड भारतीय कम्प्यूटर लिमिटेड भारतीय कम्प्यूटर उद्योग में सर्वप्रथम स्थान पर है. इसे शिव नादर ने 1971 में स्थापित किया था.

12. विश्व के सबसे बड़े कम्प्यूटर नेटवर्क का नाम “इन्टरनेट” है. The Internet is the largest computer network in the world, connecting millions of computers.

13. भारत की सिलिकॉन वैली (Silli Con Valley) बंगलौर में स्थित है.

14. कम्प्यूटर विज्ञान में पी.च.डी. करने वाले प्रथम भारतीय डॉ. राजरेड्डी हैं.

15. भारत का पहला प्रदूषण रहित कंप्यूटरकृत पेट्रोल पम्प मुंबई में है.

16. सन माइक्रोसिस्टम द्वारा खोजी गयी कंप्यूटर भाषा, जो इन्टरनेट के लिए वरदान साबित हुई है, वह है “जावा” (JAVA).

17. हिंदी कमांड (Hindi Command) स्वीकार करने वाली कंप्यूटर भाषा “प्रदेश” है.

18. NAL का fullform है- नेशनल एयरोस्पेस लेबोरेटरी.

19. कम्प्यूटर में प्रोग्राम (program) की सूची को MENU कहा जाता है.

20. कंप्यूटर के माध्यम से पत्रों, दस्तावेजों, ग्राफ़िक्स आदि को एक स्थान से दूसरे स्थान पर भेजने की सेवा देश में चालू की गयी. जिसे gmail कहा जाता है.

21. IBM का पूरा नाम इंटर नेशनल बिजनेस मशीन है.

22. CPU का पूरा नाम (full form) सेन्ट्रल प्रोसेसिंग यूनिट है.

23. भारत में कंप्यूटर के सहयोग से संगीतबद्ध किया गया प्रथम एलबम का नाम “बेबी डौल” है.

24. वैज्ञानिकों के अनुसार भारतीय भाषा “संस्कृत” कंप्यूटरकृत करने के लिए सबसे आसान है.

25. रीडिंग, राइटिंग, अर्थेमेटिक्स के बाद 90 के दशक में चौथा R कंप्यूटर को संबोधित किया जा रहा है.

26. फॉरट्रान प्रोग्रामिंग हेतु विकसित की गयी पहली भाषा है.

27. IBM 1401 वह पहला कंप्यूटर है जिसमें निर्वात ट्यूब के बजाय ट्रांजिस्टर का प्रयोग किया गया था.

28. Hypermedia वह शब्द है जो सभी प्रकार की सूचनाओं जैसे ग्राफ़िक्स (graphics), विडियो (video) या ऑडियो (audio) आधारित संबंधों का प्रतिनिधित्व करता है.

29. P.L/ 1(PL/1) वह भाषा है जो कोबोल (COBOL), फोरट्रान (FORTRAN) व बेसिक (BASIC) आदि भाषाओं को मौलिक विशेषताओं को जोडती है.

30. DOS का पूरा नाम – डिस्क ऑपरेटिंग कार्यक्रम है.

31. उस समय कम्प्यूटर, जिसका निर्माण चीन ने किया है जिसमें एक सेकेण्ड में 13 अरब गणना करने की क्षमता है, उसका नाम है – यिन्हे-३ (YINHE-3)

32. Computer का हिंदी नाम संगणक है. Hindi name of computer is “संगणक”

33. इंटेल्स-8086, मोटोरोला-6800, 68020 आदि माइक्रो प्रोसेसर (microprocessor) हैं.

34. डिस्क परिचलन प्रणाली (DOS) का मुख्य कार्य हार्डवेयर (hardware) तथा सॉफ्टवेयर (software) के बीच सम्बन्ध स्थापित करना.

35. 1860 चिप (chip) का प्रयोग परम-8600 श्रेणी के कम्प्यूटरों में किया गया है.

36. डिजिटल इक्यूपमेंट कॉर्परेशन (D.E.C.) ने मिनी कंप्यूटर (mini computer) का उत्पादन किया.

37. कोबोल (COBOL) उच्चस्तरीय भाषा (HLL) अंग्रेजी भाषा के सामान है.

38. कम्प्यूटर निर्देश में होता है- ऑपरेशन, कोड और एड्रेस (Operation, Code, Address).

39.कंप्यूटर के RAM और ROM दोनों स्टोरेज डिवाइस हैं.

40. मैगनेटिक टेप (magnetic tape) की मानक लम्बाई 2400 फुट होती है.

41. आठ बिट्स का समूह बाईट कहलाता है.

42. असैम्बली भाषा (assembly language) में लिखा गया प्रोग्राम सोर्स प्रोग्राम (source program) को ऑब्जेक्ट प्रोग्राम (object program) में परिवर्तित करता है.

43. स्टोरेज (storage) माध्यम की क्षमता की इकाई बाईट (Byte) है.

44. 1 किलोबाइट (kilobyte) 1024 बाइट (bytes) के बराबर है.

45. आधुनिक फ्रेम डिजीटल कम्प्यूटर की क्षमता 10-20 MIPS है.

46. इंटीग्रेटिड सर्किट चिप (Integrated Circuit Chip) का विकास जे.एस.किल्बी ने किया.

47. हार्ड डिस्क की स्पीड (Hard Disk Speed) 3600 चक्र प्रति मिनट है.

48. कम्प्यूटर गणितीय क्रिया-कलाप रजिस्टर (Registers) में करता है.

49. “कैड/CAD” का full form Computer-aided design है.